logo
DAV CENTENARY PUBLIC SCHOOL
URBAN ESTATE, JIND 126102 (HARYANA)
Latest News  
 
Event Detail  
TWO DAYS ORIENTATION PROGRAMME
Event Start Date : 19/08/2017 Event End Date 20/08/2017

ट्रैनिंग में निरंतरता जरूरी है जिस प्रकार शक्ति एक पहिये को घुमा कर छोड़ दिया जाता है पुनः शक्ति न लगे तो पहिये की गति कम होती-होती बंद हो जाती है। इसी प्रकार प्रिशिक्षण में निरन्तरता न हो तो शिक्षण का कार्य ठप हो सकता है। पढ़ाई में बच्चे की आवष्यकता अनुसार परिवर्तन करना जरूरी है ये उद्गार डीएवी संस्थाओं के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. धर्मदेव विद्यार्थी जी ने डीएवी शताब्दी पब्लिक स्कूल, जीन्द में आयोजित हरियाणा के डीएवी स्कूलों की प्राचार्यों की कार्यशाला में कहे। शिक्षा अधिकारी श्रीमती इन्द्रमणी जैन जी ने प्राचार्यों को प्रशिक्षित करने के साथ-साथ मूल्यांकन कर विश्लेषण करना चाहिए। कार्यशाला में लैसन प्लांनिंग, पाठयक्रम, विषय वस्तु का चयन तथा परीक्षा प्रणाली के तरीके सिखलाए गए। इस मौके पर शिक्षकों को मास्टर ट्रैनर के रूप में ट्रैड कर पावर परजनटेसन द्वारा पढ़ने पढ़ाने के तरीकों का प्रदर्शन किया गया जिसमें विभिन्न स्कूलों से 16 शिक्षकों ने भाग लिया जिसमें अंग्रेजी, गणित, सामाजिक, सांईस ओर प्राथमिक षिक्षा के तरीकों का प्रशिक्षण शिक्षकों द्वारा किया गया। जिसमें जीन्द जोन में जीन्द, फतेहबाद, सिरसा, हिसार, भिवानी, करनाल, महेन्द्रगढ़, रेवाड़ी, झज्जर जिले में स्थित सभी डीएवी स्कूलों के प्राचार्यो ने कार्यशाला में भाग लिया। यहाँ सभी प्राचार्यों ने अपने-अपने स्कूल से आए मास्टर ट्रैनर के माध्यम से शिक्षा की कलात्मकता का प्रदर्शन किया। क्षेत्राधिकारी श्री के.एल. खुराना जी ने प्राथमिक स्तर पर बच्चे की शिक्षा में रूचि पैदा करने के लिए शिक्षकोंं को टिप्स दिए। एम.एल. गर्ग ने षिक्षा पद्धती में विषय वस्तु और सामग्री के तालमेल पर बल दिया और डीएवी के इस प्रयास की सरहाना की। इस मौके पर जीन्द, सफीदों, हिसार, नारनौल, जाखल, बहादुरगढ़, फतेहबाद के मास्टर ट्रेनरों ने भाग लिया।