logo
DAV CENTENARY PUBLIC SCHOOL
URBAN ESTATE, JIND 126102 (HARYANA)
Latest News  
  • Appeal for COVID-19.This being one of the most trying times, let us together, once again, rise to help the Nation in need.For reading complete msg visit davcmc.net.in
 
Event Detail  
ATL LAB INAUGURATION
Event Start Date : 06/06/2020 Event End Date 06/06/2020

"विज्ञान के द्वारा जीवन को सरल और सहज बनाया जा सकता है। वर्तमान युग विज्ञान और टेक्नोलॉजी का योग है। विज्ञान के माध्यम से हम नई-नई खोजें कर सकते हैं, बीमारियों के इलाज भी खोज सकते हैं" यह उद्गार श्री कृष्ण चंद मिढा विधायक जींद ने डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल जींद में अटल लैब के उद्घाटन के अवसर पर कहे। उन्होंने स्कूल के बच्चों और स्टाफ को ऑनलाइन संबोधित किया । यह पहला सार्वजनिक कार्यक्रम था जो डी.ए.वी. के द्वारा ऑनलाइन प्रसारित किया गया, यह भी विज्ञान और टेक्नोलॉजी का एक नमूना था। उन्होंने आशा प्रकट की कि जिस प्रकार डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल जींद से खेलों में युजवेंद्र चहल जैसे खिलाड़ी पैदा हुए, पढ़ाई में मेडिकल के टॉपर पैदा हुए, आई.एस. पैदा हुए, इसी प्रकार इस स्कूल से अंतरराष्ट्रीय ख्याति के वैज्ञानिक पैदा होंगे।  उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण की प्रशंसा की जिन्होंने बच्चों की विधा को पहचानकर स्कूलों में अटल लैब की स्थापना के लिए केंद्र सरकार की ओर से आर्थिक सहायता प्रदान की। डी.ए.वी. संस्थाओं के क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. धर्मदेव विद्यार्थी ने कहा कि डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल का चयन अटल लैब की स्थापना के लिए किया गया है। जिसके अंतर्गत स्कूल को ₹12,00,000/- रुपए की राशि प्राप्त हुई है तथा 4 वर्ष तक  ₹2,00,000/- की राशि प्रतिवर्ष प्राप्त होगी। इस प्रकार यह राशि ₹20,00,000 होगी इसकी सहायता से छात्रों को फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायो के अतिरिक्त इलेक्ट्रॉनिक्स तथा रोबोट इत्यादि की ट्रेनिंग भी दी जाएगी। स्कूल के स्टाफ को ट्रेंड करने के लिए नीति आयोग भारत सरकार के द्वारा वेबीनार के माध्यम से ट्रेनिंग दी जा रही है, जिसमें डी.ए.वी.पब्लिक स्कूल के एक दर्जन से भी अधिक साइंस टीचर प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस लैब के माध्यम से छात्रों को नए-नए अविष्कार करने का सुनहरी मौका मिलेगा। छात्र पूरी तरह स्वतंत्र होंगे कि वे नए-नए प्रयोग कर सकें। करोना के लोक डाउन के खुलते ही डी.ए.वी. स्कूल ने इस  लैब का ऑनलाइन उद्घाटन कर इस क्षेत्र में भी पहल की है। डी.ए.वी. स्कूल ने सबसे पहले जींद क्षेत्र में ऑनलाइन कक्षाएं चला कर नया कीर्तिमान बनाया था। इस मौके पर सामाजिक दूरी का पूर्ण ध्यान रखा गया तथा प्रत्येक व्यक्ति को स्कूल के अध्यापकों द्वारा निर्मित मास्क भी वितरित किए गए तथा आग्रह किया गया कि इस प्रकार के मास्क शहर में निशुल्क बांटे जाएंगे। के.आर.डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल, सफीदों की प्राचार्य श्रीमती रश्मि विद्यार्थी ने कहा की डी.ए.वी. स्कूल ने करुणा के समय में मास्क और सैनिटाइजर बनाकर वैज्ञानिक सोच का परिचय दिया है। उन्होंने आशा प्रकट की कि लैब के माध्यम से बच्चे करोना जैसी महामारी से बचने के उपाय भी सोचेंगे। इस मौके पर स्कूल की विज्ञान संकाय के विभागों के प्रमुख श्री विजय पाल जी, श्रीमती सविता कुंडू तथा सुमन खटकड़ और अटल लैब के इंचार्ज श्री सुरेश इत्यादि उपस्थित रहे। मंच का संचालन श्रीमती मंजू परुथी ने किया तथा ऑनलाइन फेसबुक का संचालन श्री अनिल धींगरा द्वारा किया गया।